फेंगशुई के पांच तत्वों में पृथ्वी तत्व (earth elements) एक प्रमुख तत्व है। इसे उचित रूप से पृथ्वी तत्व का उपयोग करके अपने आसपास की ऊर्जा को अपने अनुकूलित किया जा सकता है।

 इस तत्व द्वारा आप  “ची” या ऊर्जा  उस  जगह पर कैसे बहती है जहां आप काम करते हैं, खेलते हैं या निवास करते हैं इस बात को नियंत्रित एवं संतुलित किया जा सकता है। 

आप साज -सज्जा में  विशिष्ट सामग्री का उपयोग करके पृथ्वी तत्व को सक्रिय कर सकते हैं। फेंगशुई में आप सद्भाव तथा संतुलन बनाने के लिए अन्य तत्वों को मजबूत या मॉडरेट करने के लिए पृथ्वी तत्व का उपयोग कर सकते हैं।

पृथ्वी हमारा घर है तथा इस पर रहने वाले सभी प्राणियों को यह जीवन तथा पोषण प्रदान करती है। यह तत्व  हमारे जीवन को एक सुरक्षित आश्रय प्रदान करता है। 

यह वह पवित्र भूमि है जिस पर हम चलते हैं और “स्वर्ग – मानवता – एवं  पृथ्वी” की ब्रह्मांडीय त्रिमूर्ति को पूरा करते हैं।

पृथ्वी तत्व को फेंगशुई कला में “ ची “ ऊर्जा के नियमित संचरण एवं प्रवाह को सुनिश्चित करने के लिए आपके आस पास की साज-सज्जा के लिए उपयोग किया जाता है। 

Earth elements property | पृथ्वी  तत्व के गुण

पृथ्वी तत्व मुख्य रूप से यिन से सम्बंधित है, जो स्त्री गुण एवं ग्रहणशील प्रकृति का है। हालांकि कई बार यह तत्व अपने सर्वोच्च रूप में अधिक सक्रिय या पुरुषत्व रूप में भी खुद को व्यक्त कर सकता है।

earth-elements-property-feng-shui

पृथ्वी की तरह इस तत्व की ऊर्जा स्थिर और केंद्रित होती है। प्रकृति में चार ऋतुएँ तथा पाँच तत्व शामिल हैं, इसलिए पृथ्वी ऋतुओं के बीच का प्रतिनिधित्व करती है, जहाँ वे एक से दूसरे में संक्रमण करते हैं।

Earth elements vs circle of creation | रचनात्मक चक्र एवं पृथ्वी  तत्व

फेंगशुई के रचनात्मक चक्र में, अग्नि तत्व पृथ्वी को मजबूत करता है, तथा पृथ्वी तत्व धातु तत्व को मजबूत करती है। इसलिए यदि आपको पृथ्वी तत्वों को बढ़ने या मजबूत करने की आवश्यकता है। 

 तो आप अग्नि तत्व से जुड़ी सजावटी वस्तुओं तथा रंगों का उपयोग कर सकते हैं। इसी तरह, आप धातु तत्व से सम्बंधित क्षेत्रों को मजबूत करने के लिए पृथ्वी के रंग और सजावट का उपयोग कर सकते हैं।

Earth elements vs circle of destruction | विनाशकारी चक्र एवं पृथ्वी तत्व

प्रकृति के विनाशकारी चक्र में, लकड़ी पृथ्वी तत्व को कमजोर या कम करती है, जबकि पृथ्वी पानी को कमजोर या कम करती है। 

इसलिए, यदि आपको पृथ्वी के तत्व को संयमित करने की आवश्यकता है, तो आप लकड़ी के तत्व से जुड़े कुछ सजावटी तत्वों का उपयोग कर सकते हैं।

Earth element color | पृथ्वी तत्व के रंग

फेंगशुई में पृथ्वी के तत्व को मजबूत करने के लिए एवं घर या कार्यालय को सजाने में आप जिन रंगों का उपयोग कर सकते हैं, वे तटस्थ मिट्टी के रंग होने चाहिए। 

earth-element-color-feng-shui

ताकि आप पृथ्वी तत्व की सहायता से अपने आसपास की ऊर्जा को संतुलित एवं नियंत्रित कर सके। जिससे आपके जीवन में सकारात्मक बदलाव सुनिश्चित हो सके। 

कुछ प्रमुख पृथ्वी तत्व से संबंधित रंग पीला, धूसर, कोरे कपड़े का रंग या हल्का भूरा हैं। फेंगशुई के अनुसार साज सज्जा करते समय आप कई प्रकार से इन रंगों को शामिल कर सकते हो। 

Earth element art | पृथ्वी तत्व फेंगशुई कला

फेंगशुई में ऐसी कलाकृतियों का उपयोग किया जाता है जो अपने भीतर एवं बाह्य स्वरूप में प्रकृति के पृथ्वी तत्व को प्रदर्शित करते है। 

अपने घर एवं कार्यालय की सजावट में पृथ्वी तत्व को शामिल करने के लिए जिन सजावटी वस्तुओं का प्रयोग आपको करने की सलाह फेंगशुई देता है वो कई प्रकार की हो सकती हैं। 

कुछ विशेष सजावटी वस्तुओं का उल्लेख इस प्रकार है – 

Stone and crystals | पत्थर एवं क्रिस्टल

चूंकि प्राकृतिक क्रिस्टल पृथ्वी के भीतर से आते हैं,इसलिए वे फेंगशुई में पृथ्वी तत्व से जुड़े हुए माने जाते हैं। पृथ्वी तत्व ऊर्जा ग्राउंडिंग एवं  स्थिरता को प्रोत्साहित करता है। 

कुछ क्रिस्टल जिनका पृथ्वी तत्व से विशेष रूप से मजबूत संबंध है, वे हैं बाघ की आंख और टूमलाइन क्रिस्टल। इनका प्रयोग करके आप इस तत्व को मज़बूत कर पाते हैं। 

Salt Lamp | साल्ट लैंप 

आप ची ऊर्जा के संतुलन में सहायता के लिए फेंग शुई अनुप्रयोगों में हिमालयी नमक लैंप का उपयोग कर सकते हैं। 

हिमालयन साल्ट क्रिस्टल अपने प्राकृतिक आयनीकरण गुणों के साथ एक शोधक के रूप में कार्य करता है जो एक एयर स्क्रबर के रूप में भी काम करता है।

Clay and terracotta | क्ले और टेरा कोटा

फेंगशुई सज्जा में  क्ले एवं टेराकोटा की वस्तुओं का प्रयोग सबसे अधिक किया जाता है ,जिससे पृथ्वी तत्व को अन्य तत्वों के साथ शामिल करके ऊर्जा को संतुलित किया जा सके। 

फेंगशुई कला में सजावट के लिए अलग-अलग प्रकार के बर्तनों का प्रयोग किया जाता है, जो आपके आसपास की “ची “ ऊर्जा में सीधे पृथ्वी तत्व को शामिल करने में सहायक सिद्ध होते हैं। 

ज़ेन या रॉक उद्यान

रॉक गार्डन द्वारा एक मनभावन लैंडस्केप डिजाइन बनाने के लिए प्राकृतिक भूभाग एवं  पत्थरों का उपयोग किया जाता हैं। 

वे असंतुलित ऊर्जा से समस्याग्रस्त क्षेत्रों के लिए बहुत अच्छे सिद्ध होते हैं, विशेष रूप से ऐसे क्षेत्र जो बहुत गर्म, शुष्क या धूप वाले हैं।

Bagua and earth element | पारंपरिक बगुआ पर पृथ्वी तत्व

पृथ्वी तत्व के कुछ अन्य गुण इस प्रकार होते है। यह संख्या पांच एवं 10 के साथ जुड़ा हुआ होता है। पृथ्वी तत्व के लिए प्राथमिक पशु पीला सांप भी है।

पारंपरिक बगुआ मानचित्र पर दो ट्रिग्राम कोन (पृथ्वी) तथा  जेन (पर्वत) में पृथ्वी की ऊर्जा समाहित एवं प्रदर्शित होती है।

Qian trigram | कियान ट्रिग्राम

इस बगुआ मानचित्र को कभी-कभी K’un के रूप में लिखा जाता है।  Kn ट्रिग्राम में तीन यिन रेखाएं होती हैं। बगुआ पर, कुन दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र में बनता है,तथा ये  प्रेम एवं विवाह के क्षेत्र से जुड़ा हुआ होता है।

प्यार, रिश्तों तथा  शादी को प्रभावित करने वाला कोन क्षेत्र कौन सा है, यह निर्धारित करने के लिए आपको अपने घर, कमरे  में कंपास रीडिंग लेने की आवश्यकता होगी।

अपने आसपास प्रेम, विवाह तथा अंतरंग संबंधों के लिए शुभ “ची “ऊर्जा उत्पन्न करने के लिए घर के  दक्षिण-पश्चिम क्षेत्र में पृथ्वी तत्वों का उपयोग करें। 

 ऊपर वर्णित पृथ्वी तत्वों तथा रंगों से अपना घर सजाएं। आप अग्नि  तत्वों का उपयोग करके भी इस क्षेत्र को मजबूत कर सकते हैं, जो पृथ्वी तत्व को बढ़ाने से आपके आसपास की ऊर्जा को भी बढ़ाएगा।

Zen trigram | जेन ट्रिग्राम

इस बगुआ मानचित्र को  कभी-कभी केन के रूप में लिखा हुआ भी देख सकते । यह  त्रिकोण पर्वत को दर्शाता  है, और इसमें दो यिन रेखाएँ होती हैं जो एक यांग रेखा द्वारा सबसे ऊपर होती हैं। 

पारंपरिक बगुआ पर, यह किसी भी कमरे, घर या स्थान के उत्तर पूर्व क्षेत्र को दर्शाता  है, जो ज्ञान को प्रभावित करने वाला क्षेत्र है।

ज्ञान क्षेत्र को मजबूत करने के लिए, ऊपर बताए गए  सजावटी वस्तुओं तथा रंगों को प्रयोग करके पृथ्वी तत्व को मज़बूत एवं स्थिर किया जा सकता है। 

यदि आपके पास इन क्षेत्रों में पर्याप्त मिट्टी नहीं है, तो आप पृथ्वी तत्व को मजबूत करने के लिए अग्नि तत्व से जुड़े सजावटी सामान भी प्रयोग में ला सकते हैं।

Western bagua vs Earth elements | पश्चिमी बगुआ पर पृथ्वी तत्व

फेंगशुई की  पश्चिमी पद्धति में कंपास दर्शित दिशाओं का उपयोग नहीं किया जाता है। इसके बजाय, यह अपने ब्लैक हैट बगुआ को नौ भागो पर निर्भर करता है। 

जहां वे सामने के दरवाजे से अंदर की ओर आते दर्शित होते हैं। पश्चिमी फेंगशुई कला में हम पृथ्वी तत्व को विभिन्न क्षेत्रों में देख सकते हैं।

प्रेम  तथा विवाह संबंध क्षेत्र पीछे की ओर, सामने के दरवाजे से दायें कोने में अंदर की ओर मुख करके बैठता है। आप इस क्षेत्र को मजबूत करने के लिए ऊपर के सजावटी रंगों और तत्वों का उपयोग कर सकते हैं।

जीवन में सौभाग्य बढ़ाने वाला क्षेत्र सामने के दरवाजे से अंदर की ओर किसी भी स्थान के  केंद्र में बैठता है। ऊपर बताए गए पृथ्वी तत्व इस क्षेत्र में “ची” ऊर्जा को मजबूत करेंगे।

ज्ञान एवं  विकास सामने के बाएं क्षेत्र में सामने के दरवाजे से अंदर की ओर होता है। इन पहलुओं को मजबूत करने के लिए यहां पृथ्वी तत्वों को मजबूत करने वाले अग्नि तत्व से सजाएं।

Use of Earth element | फेंग शुई में पृथ्वी तत्व का प्रयोग

पृथ्वी उस नींव के रूप में कार्य करती है, जिस पर आप अपना दैनिक जीवन जीते हैं। चूंकि यह भौतिक रूप से आधार भूत है, इसलिए पृथ्वी तत्व भी ऊर्जावान रूप से एक ठोस एवं केंद्रित नींव बनाता है। 

जहां आप रहते हैं, काम करते हैं, और खेलते हैं, वहां उपर्युक्त क्षेत्रों में पृथ्वी की ऊर्जा लाने से आपके जीवन में एक अधिक जमीनी और केंद्रित ऊर्जा पैदा होगी।

फेंगशुई सजावट में पृथ्वी तत्व के सही रूप में शामिल किये जाने से आप अपने आसपास की ऊर्जा को संतुलित एवं स्थिर करके अपना जीवन सुखमय बना सकते हैं। 

अधिक जानने के लिये फेंगशुई (Feng Shui) और धातु तत्व (Metal elements in feng shui) पर जाये। वास्तु और फेंगशुई (Feng shui vs Vastu ) भी पढ़े।

वास्तु सम्बंधित वीडियो के लिए हिन्दीराशिफ़ल चैनल पर जाये और वास्तु परिचय (Vastu Shastra Parichay) देखे। हिन्दी राशिफ़ल को Spotify Podcast पर भी सुन सकते है। सुनने के लिये वास्तु परिचय पर क्लिक करे और अपना मनचाही राशि चुने।

Leave a Reply