जल तत्व (water element) फेंगशुई के पांच तत्वों में से एक अत्यंत महत्वपूर्ण तत्व होता है। जल तत्व “ ची “ ऊर्जा का समर्थक तत्व होता है। 

फेंगशुई सिद्धांतों के अनुसार किसी स्थान को सजाते तथा व्यवस्थित करते समय “ची” ऊर्जा के अधिकतम प्रवाह को बढ़ावा देने के लिए जल तत्व को सही प्रकार से रखना या व्यवस्थित करना अत्यंत आवश्यक होता है। 

जल तत्व का प्रभाव अन्य तत्वों को या तो कमजोर करकर या उन्हें मजबूत करके उनकी ऊर्जा को सही रूप में संतुलित करने में मदद कर सकता है।

Water element in feng shui | जल तत्व के गुण

जल के निरंतर एवं अबाध  रूप से बहने की अपनी प्रकृति के कारण सकारात्मक ऊर्जा के निरंतर प्रवाह को सुनिश्चित करता है। 

फेंगशुई में जल तत्व से प्रभावित वस्तुओं द्वारा भी सकारात्मक प्रभाव उत्पन्न किये जा सकते है। जैसे पानी से जुड़ा फेंगशुई तत्व काला कछुआ है। 

फेंगशुई में, यह भाग्य और धन का प्रतिनिधित्व करता है। इसका संबंध बुध ग्रह और चंद्रमा से होता  है।जो आपके भाग्य उदय में सहायक हो सकता है। 

फेंगशुई में पानी या जल मुख्य रूप से “यिन” का प्रतिनिधित्व करता है।  हालांकि इसमें “यांग” तत्व भी शामिल हो सकते हैं। 

इसका मतलब है, कि जल तत्व जब अपने शांत स्वरूप में होता है, तब वह मुख्य रूप से स्त्री गुण से प्रभावित होता है तथा  ग्रहणशील प्रकृति को समाहित किए होता है। जल की यह अवस्था “यिन” का प्रतिनिधित्व करती है। 

लेकिन जब पानी आक्रामक रूप से बहता है, जैसे कि नदी या शक्तिशाली समुद्र की लहरों के रूप में,तब  इसमें यांग मर्दाना गुण अधिक होते हैं।

Circle of Destruction | फेंगशुई  विनाशकारी चक्र

विनाशकारी चक्र में पृथ्वी तत्व से जल तत्व दुर्बल हो जाता है, वही जल तत्व से अग्नि तत्व दुर्बल हो जाती है।

इसका मतलब है, कि यदि आपके  पास जल तत्व बहुत अधिक है अथवा अंतरिक्ष में जल ऊर्जा बहुत मजबूत है,, तो आप पृथ्वी के कुछ तत्वों को जोड़कर इसे कमजोर कर सकते हैं।

इसी तरह, यदि आपके पास किसी स्थान पर बहुत अधिक अग्नि तत्व से प्रभावित ऊर्जा है, तो आप जल  के तत्वों को जोड़कर उसके प्रभाव को कम कर सकते हैं।

Circle of Creation | फेंगशुई रचनात्मक चक्र

प्रकृति के रचनात्मक चक्र में धातु जल का पोषण करती है, तथा जल लकड़ी का पोषण करता है। इसका मतलब है, कि उन क्षेत्रों में जहां आपके पास जल ऊर्जा है, और आप उस ऊर्जा का उपयोग करना चाहते हैं। 

तो आप धातु के तत्वों को उससे जोड़कर ऐसा कर सकते हैं, जैसे आप लकड़ी के क्षेत्रों में पानी के तत्वों का उपयोग लकड़ी के तत्व को पोषित करने के लिए कर सकते हैं।

Water Color | जल तत्व के रंग

यिन ऊर्जा के लिए पानी का रंग नीला या एक्वा ब्लू होता है। यांग गुणवत्ता वाले पानी का रंग काला होता है।

water-element-color-feng-shui

इन रंगों को अपनी साज सज्जा की योजनाओं में उपयोग करने से आप जहां भी इसका उपयोग करते हैं, वहां पानी की उपरोक्त ऊर्जा से प्रभावित महत्वपूर्ण तत्व शामिल हो जाता है।

Water Elements | फेंगशुई जल तत्व

किसी स्थान में जल तत्व से प्रभावित ऊर्जा को जोड़ने के लिए सबसे स्पष्ट वह वस्तुएं होती हैं, जो खुद मे जल तत्व को समाहित किये होती हैं। जैसे अक़्वेरियम,फुवारे इत्यादि। 

कांच या दर्पण भी जल तत्व का प्रतिनिधित्व करते हैं। पानी को चित्रित करने वाली कोई पेंटिंग भी इस तत्व से प्रभावित होती है। मछली, समुद्री जीव, जग या अन्य जल पात्र भी सजावट के लिए रिक्त स्थान में जल तत्व की ऊर्जा प्रतिनिधित्व करते हैं।

क्योंकि पानी मुख्य रूप से  प्रकृति में यिन ऊर्जा को प्रदर्शित करता है। घुमावदार रेखाओं वाली वस्तुएं एवं चित्र इस ऊर्जा को प्रदर्शित कर सकती हैं। 

वही यांग ऊर्जा के लिए सीधी रेखाओं और तेज कोणों के विपरीत चित्रण वाले चित्र शामिल किये जा सकते हैं।

Properties of water elements | फेंगशुई जल तत्व के गुण

फेंगशुई में जल तत्व से प्रभावित वस्तुओं द्वारा भी सकारात्मक प्रभाव उत्पन्न किये जा सकते है। जैसे पानी से जुड़ा फेंगशुई तत्व काला कछुआ है। 

water-element-properties-feng-shui

फेंगशुई में, यह भाग्य और धन का प्रतिनिधित्व करता है। इसका संबंध बुध ग्रह और चंद्रमा से होता  है।जो आपके भाग्य उदय में सहायक हो सकता है। 

Bagua and Water elements | जल एवं पारंपरिक बगुआ 

फेंगशुई की पारंपरिक परंपरा से जुड़े बगुआ मानचित्र में पानी को एक त्रिकोण कान के रूप में दर्शाया जाता है। कान ट्रिग्राम में एक यांग रेखा होती है जो दो यिन रेखाओं से घिरी होती है।

फेंगशुई में पारंपरिक बगुआ मानचित्र पर, कान एक घर, कमरे या स्थान के उत्तर क्षेत्र में स्थित होता है। यह क्षेत्र करियर तथा  रोज़गार  की ऊर्जा को नियंत्रित करता है। 

 इसलिए इस स्थान में जल तत्व से प्रभावित  रंगों एवं  सजावटी समान  का उपयोग आपके जीवन के इस क्षेत्र  में शुभ “ची ” ऊर्जा उत्पन्न करने  में मदद कर सकता है।

आप जल तत्व को धातु के तत्वों के साथ मिलाकर और अधिक  मजबूत कर सकते हैं जो पानी का पोषण करते हैं। 

जल तत्व से प्रभावित लकड़ी के सजावटी सामान घर की ऊर्जा को बढाकर घर के दक्षिण-पूर्व एवं पूर्व दिशा की सकारात्मक ऊर्जा को मज़बूत करते हैं। 

Western Bagua and water element | जल तत्व एवं पश्चिमी बगुआ 

फेंग शुई की पश्चिमी पद्धति जिसे ब्लैक हैट फेंगशुई  के रूप में भी जाना जाता है। उसके अनुयायी, घर के सामने वाले दरवाजे पर खड़े होने की जगह के सामने केंद्र में एक पानी का बर्तन रखने की सलाह देते हैं ।

आप अपने घर में पश्चिमी या पारंपरिक फेंगशुई कला का उपयोग कर सकते है। लेकिन ब्रह्मांडीय ऊर्जा के संतुलन को बनाए रखने के लिए दोनों का एक साथ उपयोग वर्जित होता है। 

पारंपरिक फेंग शुई में जल क्षेत्र में शुभ ची ऊर्जा बनाने से करियर एवं रोज़गार को समर्थन और मजबूती मिलती है।

Water element placement | जल तत्व की नियुक्ति

फेंगशुई में कुछ जल तत्व एवं जल स्थानों को अशुभ माना जाता है। यदि आप अपने घर के सामने के दरवाजे के बाहर पानी की सुविधा रखते हैं। 

 तो इस बात को सुनिश्चित करें कि यह आपके घर की ओर बहती हुई हो ,न कि इससे दूर जाती हुई । यदि आप विपरीत दिशा में इसको स्थापित करेंगे तो धन हानि होगी। 

अपने बेडरूम में कभी भी पानी के फव्वारे या नदी की तस्वीरें न लगाएं। क्योंकि पानी आग को ठंडा करता है, इसलिए इससे विवाहित जीवन में उत्साह एवं जोश की कमी आती है। 

यदि आपका बाथरूम आपके घर के जल क्षेत्र में न हो, तब बेहतर होगा कि आप अतिरिक्त जल तत्व वाली वस्तुओं को उसमे न जोड़ें। 

क्योंकि बाथरूम पहले से ही सिंक, शॉवर तथा  शौचालय के साथ जल ऊर्जा की अत्यधिक विषमताओं भरा होता है। यह नकारात्मक ऊर्जा को और बढ़ा देता है। 

Use of water elements | शुभ जल तत्व का समायोजन 

आपके घर,कमरे या ऑफिस  में पानी का प्रतिनिधित्व करने वाली वस्तुओं को ठीक से रखने से भी शुभ ची बन सकती है। जो आपके भाग्य, समृद्धि तथा करियर में सफलता की संभावनाओं को बढ़ा देती है। 

घर में उपयुक्त स्थानों में जल प्रभावित सजावटी वस्तुओं का उपयोग करके आप “ची” के प्रवाह को संतुलित एवं नियंत्रित करके सकारात्मक प्रभावों को बढ़ा सकते हैं। 

फेंगशुई में जल तत्व का सही उपयोग आपके जीवन में सकारात्मक परिवर्तन सुनिश्चित करने में अत्यंत सहायक हो सकता है। 

अधिक जानकारी हेतु फेंगशुई (Feng Shui) और वास्तु और फेंगशुई (Feng shui vs Vastu ) भी पढ़े।

राशियों अथवा भविष्यफल से सम्बंधित वीडियो हिंदी में देखने के लिए आप Hindirashifal यूट्यूब चैनल पर जाये और सब्सक्राइब करे।

हिन्दी राशिफ़ल को Spotify Podcast पर भी सुन सकते है। सुनने के लिये hindirashifal पर क्लिक करे और अपना मनचाही राशि चुने।

Leave a Reply