फेंगशुई  प्राचीन कला है, जिसकी उत्पत्ति चीन में हुई थी। चीनी भाषा में फेंगशुई शब्द का शाब्दिक अर्थ “हवा” और “पानी” होता है। 

यह कला आपके घर में ची या जीवन शक्ति ऊर्जा को व्यवस्थित करने के लिए ऊर्जा के प्रतीकों के साथ मिलकर काम करता है, ताकि आप अपने आसपास के पर्यावरण के साथ अधिक सामंजस्य में रह सकें।

प्रकृति से इस कला के संबंध के कारण ही फेंगशुई में उपयोग आने वाले महत्वपूर्ण प्रतीकों में से एक मछली (Feng shui fish tank) होती है।

मछली को लम्बे समय से पूर्वी एशिया में बहुतायत के प्रतीक के रूप में मानव जीवन में शामिल किया जाता रहा है। मछली और चावल इन संस्कृतियों के लिए प्रधान खाद्य हैं, एवं उनकी अर्थव्यवस्थाओं का एक महत्वपूर्ण घटक भी हैं।

Fishes and water element | फेंगशुई में मछली एवं जल तत्व

मछली तथा जल तत्व दोनों ही को फेंगशुई में सौभाग्य, समृद्धि एवं प्रचुरता के प्रतिनिधि के रूप में जाना जाता हैं। जब आप पानी और मछली को एक साथ रखते हैं, तो आप इन प्रतीकों की शक्ति को बढ़ा सकते हैं।

fishes-and-water-element
Fishes and water element | फेंगशुई में मछली एवं जल तत्व

अपने घर में मछली एवं  जल तत्व के फेंगशुई प्रतीकों को लाने के कुछ तरीकों में जीवित मछली के साथ एक्वैरियम, एक बाहरी  तालाब में मछलियों को रखना या किसी भी कलाकृति के रूप में जल एवं मछलियों को लगाना होता है। 

अधिक समृद्धि को सक्रिय करने के लिए आप अपने घर के धन (एक्सुन) क्षेत्र में फिश टैंक रख सकते हैं। बाहरी दुनिया से अधिक धन को अपने जीवन में आमंत्रित करने के लिए मछली को आपके घर के प्रवेश द्वार के पास रखना अत्यंत लाभदायक सिद्ध होता है। 

मछली या उसका प्रतीक फेंगशुई कला में विपरीत परिस्थितियों में भी अपनी दृढ़ता के कारन विशेष स्थान रखती हैं क्योंकि यह धारा के विरुद्ध गतिमान रहने के लिए जानी जाती हैं। 

फेंगशुई कला में एक्वेरियम रखने की खूबी यह है, कि इसमें आपके फेंगशुई समायोजन में जल तत्व के गुण भी शामिल कर पाते हैं।

मछली की तरह जल तत्व भी आपके लिए ऊर्जा, धन एवं शुभ अवसरों के प्रवाह से जुड़ा होता है। घर या ऑफिस में एक्वेरियम होने से जल तत्व इस तरह से आपके जीवन में शामिल हो जाता है जो प्राकृतिक जीवन (मछली) के समावेश के साथ ताज़गी को प्रवाहित करता है।

Best place for aquarium | सर्वश्रेष्ठ फेंगशुई एक्वेरियम स्थान

आप अपने घर पर फेंगशुई बगुआ मानचित्र पर विचार करते हुए उसमे जल स्थान का चयन करके एक्वेरियम लगाने के स्थान का चयन कर सकते हो। जिससे आपके आसपास की ऊर्जा में जलतत्व में वृद्धि हो सके। 

कुछ विशेष स्थान जिनको ध्यान में रखते हुए आप अपने घर या ऑफिस में एक्वेरियम स्थापित कर सकते हैं वो इस प्रकार हैं –

धन क्षेत्र (ज़ुन एरिया) 

यदि आप धन एवं समृद्धि को अपने जीवन में बढ़ाना चाहते हैं ,तो अपने घर या ऑफिस के धन क्षेत्र में आपको एक़्वेरियम स्थापित करना चाहिए।  

करियर क्षेत्र (कान एरिया )

आपके व्यावसायिक जीवन में अधिक ऊर्जा एवं गतिविधि बनाये रखने के लिए आपको करियर क्षेत्र (कान) को फेंगशुई एक्वेरियम के साथ सक्रिय किया जा सकता है।

पारिवारिक क्षेत्र (जेन एरिया )

पारिवारिक क्षेत्र (जेन) में एक़्वेरियम लगाने से नई चीजों को शुरू करने और आपके पारिवारिक सामंजस्य में अधिक सहजता लाने के लिए आपको सहायता प्रदान कर सकता है। 

प्रवेश द्वार 

आपके घर में अधिक धन एवं  ची ऊर्जा को आमंत्रित करने के लिए आप अपने घर के मुख्य द्वार या अन्य कमरों के प्रवेश द्वार पर एक़्वेरियम लगा सकते हैं। 

ऑफिस या कार्यस्थल 

अपने व्यापार को वृद्धि देने के लिए आप यहाँ पर भी अपने केबिन या रिसेप्शन एरिया में एक्वेरियम लगा कर समृद्धि को आमंत्रित कर सकते हो। 

Tips for aquarium | एक्वेरियम लगाने के टिप्स

जिस प्रकार हर वस्तु का सम्पूर्ण लाभ लेने के लिए उसको स्थापित करने या प्रयोग करने के कुछ विशेष नियम या सावधानियां होती है ,उसी प्रकार एक्वेरियम लगाने में भी कुछ बातों का ध्यान रखना आवश्यक होता है। 

Types of fishes | मछली के प्रकार

एक इनडोर फेंगशुई एक्वेरियम के लिए, हम आमतौर पर सुनहरी मछली रखने की सलाह देते हैं, जो एक प्रकार की कार्प होती है। 

वे अपने सुनहरे रंग के कारण विशेष रूप से शुभ होती हैं, जो धन एवं  सौभाग्य को आमंत्रित करती हैं।इसलिए फेंगशुई में उनका विशेष स्थान है। 

अन्य प्रकार की मछलियों को भी आप अपने एक्वेरियम का हिस्सा बना सकते है ,किन्तु आपको उनकी उचित देखभाल की आवश्यकता होगी। 

Number of fishes | मछलियों की संख्या 

फेंगशुई में एक्वेरियम को शामिल करते समय सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि उसमें मछली की मात्रा, आपके पास उपलब्ध स्थान और रखरखाव के लिए आपके पास समय के लिए उपयुक्त आकार का टैंक हो । 

number-of-fishes-feng-shui
Number of fishes | मछलियों की संख्या 

एक गंदे टैंक में बीमार मछली रखना अच्छा फेंगशुई ऊर्जा को आमंत्रित नहीं करता है।  जो बहुत अधिक नकारात्मक ऊर्जा को बढ़ावा देकर आपको हानि दे सकता है।

दो मछलियां यिन एवं यांग का प्रतिनिधित्व करती हैं। मछली का एक जोड़ा आठ बौद्ध प्रतीकों में से एक होता है। तीन मछलियां नई शुरुआत एवं  पारिवारिक सद्भाव का प्रतिनिधित्व करती  हैं। 

पांच मछलियां संतुलन को आमंत्रित करती है, क्योंकि यह पांच तत्व प्रणाली के लिए एक शुभ संकेत देती  है। नौ या नौ के गुणज (यदि आपके पास एक विशाल टैंक है) आपके जीवन में सब कुछ पूरा होने की संख्या होती है।

इसलिए यह फेंगशुई में सबसे भाग्यशाली संख्या होती है। इससे आपको अपने जीवन में सर्व प्राप्ति की अनुभूति की प्राप्ति होती है। 

Aquarium shape | एक्वेरियम का आकार

फेंगशुई में मछली तत्व एवं जल तत्व के सम्पूर्ण लाभ की प्राप्ति के लिए एक्वेरियम के आकार का भी विशेष महत्व होता है। 

गोल या गोलाकार कटोरे नुमा एक्वेरियम में धातु तत्व होता हैं। धातु सटीकता एवं  आनंद से जुड़ी होती है।  आयताकार टैंक लकड़ी के तत्व को प्रदर्शित करता हैं। लकड़ी उपचार एवं विकास को बढ़ावा देती है। 

स्क्वायर एक्वैरियम पृथ्वी तत्व को प्रदर्शित करते हैं। पृथ्वी तत्व स्थिरता एवं दृढ़ता का प्रतीक होते हैं । इनके प्रयोग से आप इन तत्वों को शामिल कर सकते है। 

Color | रंग विषय-वस्तु

पृथ्वी तत्व के लिए भूरे, तटस्थ और पीले  रंग अच्छे होते हैं। पृथ्वी तत्व स्थिरता और आत्म-देखभाल को आमंत्रित करता है। धातु के लिए सफेद, ग्रे रंग होते है। धातु तत्व आनंद, दक्षता और दुखों ले अंत के लिए सहायक बनता  है।

जल तत्व के लिए  काला और बहुत गहरा नीला रंग अच्छा होता है। जल तत्व ज्ञान एवं जीवन वृद्धि में आपके पथ से जुड़ा होता है।

लकड़ी तत्व के लिए हरा ,टील एवं  नीला रंग होता है। लकड़ी का तत्व विकास, दया एवं लचीलेपन को बढ़ावा देता है।

अग्नि तत्व का रंग लाल होता है। अग्नि तत्व जुनून, दृश्यता एवं  खुले दिल को प्रदर्शित करता है। इसको अपने आसपास की ऊर्जा में बढाकर आप समृद्धि को बढ़ावा देते हो। 

Elements balancing | एक्वेरियम में पांच तत्वों को संतुलित करें

यदि आप  फेंगशुई कला द्वारा समृद्धि  को और भी अधिक बढ़ावा देना चाहते हैं, तो आप पांच तत्वों को संतुलित करने के लिए अपने एक्वेरियम में शामिल कर सकते हैं। 

एकवेरियम में बजरी तथा पत्थरों  को शामिल करके आप पृथ्वी तत्व को बढ़ावा दे सकते हैं। इसमें धातु की सजावट के साथ धातु तत्व लाया जा सकता है। 

जल तत्व के लिए मछलीघर में ताजा साफ पानी रखना अच्छा होता  है। जलीय पौधों के साथ लकड़ी का तत्व शामिल किया जा सकता है। ये असली या नकली दोनों प्रकार के हो सकते हैं। 

अग्नि तत्व के लिए सुनहरी मछली के तेज़  रंगों, किसी भी प्रकार की प्रकाश व्यवस्था, द्वारा शामिल किया जा सकता है। 

एक मछलीघर मछली की ऊर्जा को घर के आंतरिक स्थान पर आमंत्रित करने का एक शानदार तरीका है क्योंकि हर किसी के पास एक बाहरी तालाब पाने की क्षमता नहीं होती है।

एक अच्छी तरह से रखा एक्वेरियम मछली एवं जल तत्व दोनों के गुणों को बहुतायत भाग्य एवं ची के सहज प्रवाह को आमंत्रित कर सकता है।

आपको अपने घर में एक्वेरियम रखने से पहले इस बात का ख्याल रखें, कि एक्वेरियम को कितने रखरखाव की आवश्यकता होगी। 

यदि आप सुनिश्चित नहीं हैं कि आप एक्वेरियम की देखभाल कर सकते हैं, तो आप घर के आस-पास अपनी कलाकृति में उसी इरादे से मछली के रूपांकनों का प्रयोग भी  कर सकते हैं।

अधिक जानने के लिये फेंगशुई (Feng Shui) और पृथ्वी तत्व (Earth elements feng shui) पर जाये। वास्तु और फेंगशुई (Feng shui vs Vastu ), विंड चाइम्स ( wind chime ), सिक्के (feng shui coins), बांस का पौधा फेंगशुई कला (feng shui bamboo) भी पढ़े।

फेंगशुई तत्वों सम्बंधित जानकारी के लिये लकड़ी तत्व (wood elements), अग्नि तत्व (fire elements), धातु तत्व ( metal elements), जल तत्व (water element) भी पढ़े।

वास्तु सम्बंधित वीडियो के लिए हिन्दीराशिफ़ल चैनल पर जाये और वास्तु परिचय (Vastu Shastra Parichay) देखे। हिन्दी राशिफ़ल को Spotify Podcast पर भी सुन सकते है।

सुनने के लिये वास्तु परिचय पर क्लिक करे और अपना मनचाही राशि चुने।

वास्तु सम्बंधित वीडियो के लिए हिन्दीराशिफ़ल चैनल पर जाये और वास्तु परिचय (Vastu Shastra Parichay) देखे। हिन्दी राशिफ़ल को Spotify Podcast पर भी सुन सकते है। सुनने के लिये वास्तु परिचय पर क्लिक करे और अपना मनचाही राशि चुने।

Leave a Reply