नया दिन नया साल हमेशा हमारे मन में आने वाले कल के सुन्दर सपने लेकर आता है। हम चाहते हैं कि आने वाले साल (Leo 2026) का हर पल जीवन में नवीनता लेकर आये। 

साल के लिए सिंह राशि वालों के मन में भी नए साल को लेकर कुछ सपने एवं योजनाएं है। 

अगर नए साल की शुरुआत से पहले ही हमें यदि उस वर्ष ग्रहों की दशा एवं चाल का पता चल जाये, तो हम अपनी राशि को प्रभावित करने वाले ग्रहों के अनुसार अपनी योजनाएं निर्धारित कर सकते है। 

इस वर्ष शनि मीन राशि के आठवें भाव में रहेगा तथा 25 नवंबर तक राहु कुंभ राशि के सातवें भाव में होगा। इससे ऐसी स्थिति बनेगी कि वह मकर राशि से छठे भाव में गोचर करे। 

वर्ष के पहले भाग में बृहस्पति मिथुन राशि के ग्यारहवें भाव में होगा तत्पश्चात 02 जून को यह कर्क राशि के प्रथम भाव में गोचर करेगा। 

31 अक्टूबर को बृहस्पति तीव्र गति से सिंह राशि के प्रथम भाव में प्रवेश करेगा। इस वर्ष मंगल अपनी सामान्य गति से गोचर करेगा। 

वर्ष की शुरुआत में 01 फरवरी तक शुक्र अस्त रहेगा। इसके बाद अक्टूबर भी चौदह दिनों तक शुक्र ग्रह अस्त रहेगा।

Leo Education in 2026 | शिक्षा

सिंह राशि के छात्रों के लिए साल का पहला भाग अनुकूल रहेगा। चूंकि बृहस्पति पंचम भाव पर दृष्टि प्रभाव डालता है, इसलिए उच्च शिक्षा के इच्छुक छात्रों को एक उच्च प्रतिष्ठित संस्थान में प्रवेश मिलेगा। 

leo-education-in-2026

व्यावसायिक शिक्षा प्राप्त करने वाले छात्रों को सफलता प्राप्त करने के लिए बहुत ईमानदारी से प्रयास करने होंगे, तभी सफलता आपके कदम चूमेगी। 

02 जून के बाद प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता के लिए प्रतीक्षा करनी होगी। इस समय अथक और लक्ष्योन्मुखी प्रयास करने होंगे। 

जिन जातकों को अभी तक कोई नौकरी नहीं मिली है, उनके और प्रतीक्षा करने की संभावना है। 24 नवंबर के बाद राहु छठे भाव में गोचर करेगा, इस समय आपके करियर में सफलता मिलने के संकेत हैं।

घर में शिक्षा सम्बंधित अनुकूलता के लिए Study Table Vastu पर जाये।

Leo 2026 Career, Job | सिंह 2026 में करियर, नौकरी

नौकरी एवं व्यावसायिक दृष्टिकोण से यह वर्ष सिंह राशि वालों को औसत फल देने वाला रहेगा। शनि एवं  राहु का गोचर प्रतिकूल होने के कारण आपको अपने कार्यक्षेत्र में सफलता नहीं मिलेगी। 

leo-2026-career-job

गुप्त शत्रु एवं विरोधी आपके काम में परेशानी पैदा करेंगे तथा व्यापार को लेकर मानसिक तनाव रहेगा। इस दौरान न तो किसी पर विश्वास करें और न ही जल्दबाजी में कोई महत्वपूर्ण फैसला लें।

02 जून के बाद समयावधि पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। उस समय आपके साथ धोखा हो सकता है या व्यापार में घाटा हो सकता है।

हमेशा सकारात्मक व्यवहार का पालन करें, क्योंकि वर्ष के अंत में राहु एवं बृहस्पति दोनों का गोचर अनुकूल हो जाएगा। 

उस समय आपके व्यवसाय एवं  कार्यक्षेत्र से आपको मनोवांछित लाभ मिलना शुरू हो जाएगा। आप थोड़ा निश्चिन्त होकर अपने काम कर पाएंगे। 

जॉब के लिये वास्तु उपाय ( vastu job tips ) किस प्रकार आपको अपने करियर को चमकाने में सहायक सिद्ध हो सकता है। 

Money | धन, संपत्ति 

वर्ष 2026 की पहली छमाही का आपकी राशि के आर्थिक दृष्टिकोण पर औसत प्रभाव पड़ेगा। एकादश भाव में बृहस्पति के कारण आय का निरंतर प्रवाह होगा। 

leo-2026-money

इस दौरान आपको अपने भाइयों का पूरा सहयोग मिलेगा। 02 जून के बाद, समय अवधि आपके जीवन के आर्थिक पक्ष को अधिक शुभ घटनाओं की ओर ले जाएगी। 

इस वर्ष आप किसी अपने की बीमारी के इलाज के लिए खर्च करेंगे। आपका जीवनसाथी भी इस वर्ष किसी बीमारी से पीड़ित हो सकता है। 

इस साल कुछ अचानक आये खर्चे आपको उधार लेने के लिए विवश करेंगे या आपका बजट बिगड़ देंगे। आपको ऐसी परिस्थिति में सोच समझकर फैसला लेना होगा। 

किसी भी उद्योग में निवेश न करें तथा आपसी एवं व्यापारिक  लेन-देन में सावधानी बरतें। 31 अक्टूबर के बाद, समय अवधि अधिक अनुकूल हो जाएगी।

अधिक धन प्राप्ति उपाय के उपक्रमों को जानने के लिये धन प्राप्ति उपाय (How To Become Rich) अवश्य पढ़े।

Love and Romance in 2026 | प्रेम एवं प्रणय सम्बन्ध   

भले ही सिंह राशि के जातकों को उनकी राशि के आधार पर थोड़ा गुस्सैल एवं कठोर ह्रदय समझा जाये, किन्तु प्रेम (Prem) के मामले में आप अन्य राशियों जैसे ही कोमल एवं भावुक होते हैं। 

बृहस्पति एवं मंगल आपको अपने जीवन को पूरी भरपुरी से जीने की इच्छा से भरते है। प्रेम प्राप्ति की अनुभूति आपके अंदर इस वर्ष अपने चरम पर होगी। 

इस साल आपको अपनी प्रेम पाने की भावना को लेकर थोड़ा संघर्ष करना पड़ेगा, किन्तु इससे आपकी इच्छा में कमी नहीं आएगी। 

इस साल आपको अपने प्रेम संबंधों में थोड़ा ध्यानपूर्वक व्यवहार करना होगा, क्योंकि अत्यधिक भावुकता आपको नुकसान पहुंचा सकती है। 

विवाह योग, कब, कहा और कैसे आदि प्रश्नो से सम्बंधित समाधान के लिये Marriage लेख पढ़े और अपनी जिज्ञासा को विराम दे।

प्रेम विवाह के योग एवं प्रेम विवाह की सफलता के विषय में जानने के लिये Love Marriage पर जाये। अपने और प्रेमी से विवाह सम्बंधित शंकाओ के बारे में जाने।  

Family and social Life | परिवार एवं सामाजिक जीवन

पारिवारिक दृष्टिकोण से यह वर्ष मध्यम प्रभाव वाला रहेगा। साल की शुरुआत में आप पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के कारण अपने परिवार को समय नहीं दे पाएंगे। 

किन्तु आपके लिए शांति की बात यह है, कि इस वर्ष आपके परिवार में शांति और सद्भाव का माहौल बना रहेगा। आपका परिवार आपकी ताकत बनेगा कठिन समय में। 

आपको अपने भाइयों का पूरा  सहयोग प्राप्त होगा। बृहस्पति के तीसरे भाव पर दृष्टि प्रभाव के कारण आपकी सामाजिक स्थिति एवं प्रतिष्ठा एक कदम आगे बढ़ेगी।

02 जून के बाद बृहस्पति का गोचर अधिक अनुकूल होता जा रहा है। उस समय आपके परिवार के किसी बुजुर्ग सदस्य के साथ अनबन हो सकती है।

 इसलिए अपनी सहनशीलता की शक्ति और उचित निर्णय लेने की क्षमता को बढ़ावा देना बेहतर है। सप्तम भाव में राहु आपके जीवनसाथी के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डाल सकता है।

Children | संतान

संतान पक्ष के  दृष्टिकोण से साल का पहला भाग अनुकूल रहेगा। चूंकि बृहस्पति पंचम भाव पर दृष्टि कर रहा है, इसलिए आपके बच्चे सफलता की सीढ़ी चढ़ेंगे। 

वे अपनी मानसिक क्षमताओं के बल पर अपने लक्ष्य  तक पहुंचेंगे। इस वर्ष उनकी शिक्षा में विशेष प्रगति होगी जिससे वे उपलब्धियां हासिल करेंगे। 

नवविवाहितों के लिए गर्भधारण  के लिए अत्यंत शुभ मुहूर्त बन  रहा है। यानी आप इस समय के दौरान अपना परिवार आगे बढ़ने के विषय में सोच सकते हैं। 

इस दौरान आपके बच्चों का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित होता दिख रहा है। ये आपकी मानसिक शांति एवं संतान पक्ष को लेकर निश्चितता को बढ़ाता है। 

06 जून के बाद समय अवधि कुछ प्रतिकूल हो जाएगी। आपके बच्चों की कुछ स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं जो उनकी शिक्षा पर प्रभाव डाल सकती हैं। 

लेकिन 31 अक्टूबर के बाद दोबारा समयावधि बेहतरी की ओर बढ़ेगी।एक बार फिर से आपके बच्चे प्रगति पथ पर अग्रसर होंगे।

संतान सम्बन्धी विषयो और समस्याओ के लिये स्वर योग से मनचाही संतान पढ़े।  

Health | स्वास्थ 

स्वास्थ्य की दृष्टि से साल का पहला भाग मध्यम रूप से आपके लिए शुभ रहेगा। शनि एवं  राहु के प्रतिकूल गोचर के कारण स्वास्थ्य को लेकर कुछ परेशानी हो सकती है। 

स्वास्थ्य में अचानक गिरावट आ सकती है, लेकिन जल्द ही एकादश भाव में बृहस्पति द्वारा स्वस्थ होने का संकेत भी मिल रहा है।

02 जून के बाद छोटी-छोटी बीमारियों से आपके स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ सकता है। आर्थिक पहलू या किसी अन्य मामले से जुड़े मुद्दों पर अधिक चिंतित न हों। 

अन्यथा आपका स्वास्थ्य इन सभी मामलों से प्रभावित होगा,जिससे तनाव बढ़ेगा । बृहस्पति के बारहवें भाव में जल राशि में होने के कारण कफ या मौसम के कारण रोग हो सकते हैं। 

सुबह व्यायाम करना या योगाभ्यास करना आपके लिए वरदान साबित होगा। 31 अक्टूबर के बाद स्वास्थ्य सामान्य होना शुरू हो जाएगा।

स्वयं के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए “स्वयं की देखभाल” (9 ways to self-care) पढ़े।

Travel in 2026 | यात्रा 

सिंह राशि वालों के लिए यात्रा की दृष्टि से यह वर्ष अनुकूल रहेगा। साल की शुरुआत में छोटी एवं  व्यर्थ की  यात्राएं होंगी। 

इस साल  02 जून के बाद गुरु के बारहवें भाव में स्थित होने के कारण आपके प्रबल विदेश यात्रा के योग बन रहे हैं, जो आपके व्यवसाय या कैरियर के लिए लाभदायक रहेंगे। 

चूंकि बृहस्पति आपकी राशि के चतुर्थ भाव पर अपनी दृष्टि प्रभाव डालता है, इसलिए दूर-दराज के क्षेत्रों में रहने वाले जातकों के जन्म स्थान की यात्रा के संकेत मिल रहे हैं।

Astrology Suggestions | ज्योतिषीय उपाय 

धार्मिक कार्यों की दृष्टि से यह वर्ष आपको मनोवांछित प्रतिफल देने वाला है। गुरु के ग्यारहवें भाव में होने के कारण आपका झुकाव पूजा, ईश्वर भक्ति या मंत्र जाप आदि की ओर अधिक होगा।

 02 जून के बाद बृहस्पति बारहवें भाव में गोचर करेगा, इस समय आप दान -पुण्य करने में अधिक विश्वास करेंगे तथा धार्मिक कार्यों में भी शामिल होंगे।

इसके अलावा कुछ विशेष उपाय करने से भी आपकी धार्मिक आस्था पूर्णता प्राप्त करेगी, जो आपकी मानसिक शांति का कारण बनेगी। 

  • मंदिर में पुजारी, बड़ों, धार्मिक प्रचारकों एवं  ब्राह्मणों की सेवा करें।
  • किसी मंदिर में दान के रूप में केला, पीले रंग की दाल या  बेसन के लड्डू का दान करें। 
  • गुरुवार का व्रत करें एवं गुरु शांति मंत्र का पाठ करें। 
  • शनिवार के दिन काली वस्तु  या काला कंबल दान में दें।
  • गरीबों को भोजन कराएं।

नवरत्नों के चमत्कारिक प्रभाव को जानने के लिए नवरत्न (Navratna) पर जाये। यदि रंगो का हमारे जीवन और स्वास्थ पर पड़ने वाले प्रभाव को जानना चाहते है, तो कलर (Colour) पर क्लिक करे।

इस मानव शरीर पर पड़ने वाले ग्रहो के प्रभाव से उत्पन्न व्याधियों के रत्नो द्वारा उपचार के लिए Navagraha पढ़े।

यंत्र प्रयोग एवं यंत्रो द्वारा समस्या निवारण अथवा प्रयोजन सिद्धि जानने हेतु यंत्र का जादू (Yantra) पर जाये तथा विविध प्रयोजन हेतु विशिष्ट यंत्रो की भी जानकारी प्राप्त करे।

जीवन में आने वाली अप्रत्याशित समस्याओ तथा काल सर्प दोष के मध्य सम्बन्ध और उपाय के लिये kaal sarp dosh लिंक पर जाये।

लग्न, वर्षफल, राशियों अथवा भविष्यफल से सम्बंधित वीडियो हिंदी में देखने के लिए आप Hindirashifal यूट्यूब चैनल पर जाये और सब्सक्राइब करे।

अब आप हिन्दी राशिफ़ल को Google Podcast पर भी सुन सकते है। सुनने के लिये hindirashifal पर क्लिक करे और अपना मनचाही राशि चुने।

Leave a Reply