राशि चक्र की दूसरी राशि वृषभ के लिए साल (Taurus 2026) कैसा रहने वाला है इसको जानने के लिए चलिए सर्वप्रथम ग्रहों की दशा के विषय में जानकारी प्राप्त करना उचित रहेगा। 

वर्ष में शनि मीन राशि के बारहवें भाव में तथा 25 नवंबर तक राहु कुंभ राशि ग्यारहवें के भाव में रहेगा, उसके बाद यह मकर राशि के दशम भाव में गोचर करेगा। 

वर्ष के पहले भाग में बृहस्पति मिथुन राशि के तीसरे भाव में होगा तथा  02 जून को यह कर्क राशि चतुर्थ भाव में गोचर करेगा। 

31 अक्टूबर को बृहस्पति तीव्र गति से सिंह राशि के पंचम भाव में प्रवेश करेगा। इस वर्ष मंगल अपनी सामान्य गति से गति करेगा। वर्ष की शुरुआत में 01 फरवरी तक शुक्र अस्त रहेगा एवं  अक्टूबर में भी चौदह दिनों तक रहेगा।

यदि आप और हम वर्ष 2026 में ग्रहों की उपरोक्त स्थिति के अनुसार अपने जीवन को व्यवस्थित करें तो इसका लाभ उठा सकते हैं। 

Taurus Education in 2026 | शिक्षा

साल की शुरुआत वृषभ राशि के छात्रों को प्रतियोगी परीक्षाओं में सफलता दिलाएगी। छठे भाव पर बृहस्पति के दृष्टि प्रभाव के कारण आप प्रतियोगी परीक्षाओं में उत्कृष्ट प्रदर्शन करेंगे। 

taurus-education-in-2026

कुछ अनुभवी व्यक्तियों के साथ जुड़कर आप अपनी कार्यशैली में सुधार करेंगे। सरकारी अधिकारी एवं  वरिष्ठ लोग आपका सहयोग करेंगे, जो आपके कार्यक्षेत्र से लाभ का कारण बन सकता है।

02 जून के बाद तकनीकी शिक्षा या पेशे के लिए समय अवधि अनुकूल हो रही है। शनि का गोचर अनुकूल है, इसलिए बेरोजगार लोगों के लिए नौकरी मिलने की प्रबल संभावना है।

घर में शिक्षा सम्बंधित अनुकूलता के लिए Study Table Vastu पर जाये।

Taurus 2026 Career, Job | वृषभ 2026 में करियर, नौकरी

नौकरी तथा व्यापार के लिहाज से साल की शुरुआत आपके लिए बहुत बेहतरीन रहेगी। आप अपनी कार्य क्षमता एवं दक्षता के बल पर नौकरी या व्यापार में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त करेंगे। 

taurus-2026-career-job

इस सफलता में आपके भाइयों का पूरा योगदान रहेगा। आप अपने व्यापार  में नवीनता पैदा करने के लिए उच्च अधिकारियों तथा वरिष्ठ व्यक्तियों का सहयोग प्राप्त करेंगे। 

आपके वरिष्ठों का सहयोग आपके लिए वांछित लाभ सुनिश्चित करता है। जो लोग नौकरी में हैं उन्हें अपने कार्यस्थल पर सम्मान मिलेगा तथा अधिकारियों का साथ भी  मिलेगा।

02 जून के बाद गुरु के एकादश भाव में शनि के  दृष्टि प्रभाव के कारण आपको अपने कार्यक्षेत्र से काफी लाभ होगा। यदि आप साझेदारी में कोई उद्यम चला रहे हैं तो भी आपके लिए एक वांछित लाभ की प्रतीक्षा समाप्त होगी।  

जो लोग भूमि संबंधी गतिविधियों में शामिल हैं, उन्हें 31 अक्टूबर के बाद उल्लेखनीय लाभ होगा। इस अवधि के दौरान आपको अपनी पसंद के स्थान पर स्थानांतरित किया जा सकता है।

आपके लिए साल 2026 नौकरी अथवा व्यापार के क्षेत्र में अथाह सफलता के योग बन रहे है, सिर्फ आपको सही मार्ग पर चलते हुए लगातार मेहनत करते रहना होगा। 

Money | धन, संपत्ति 

आर्थिक दृष्टि से साल का पहला भाग आपके लिए काफी शुभ रहेगा। आपकी आमदनी में इजाफा होगा,जिससे  वांछित बचत करके आप अपनी वित्तीय स्थिति को मजबूत बना सकते हैं। 

taurus-2026-money

आपको रत्नों एवं  आभूषणों की प्राप्ति से आर्थिक सुख मिलेगा ,क्योंकि द्वितीय भाव में बृहस्पति का प्रभाव इसके लिए अच्छा बन रहा है। 

अष्टम भाव पर बृहस्पति एवं  शनि के संयुक्त दृष्टि प्रभाव के कारण ससुराल से पैतृक संपत्ति या धन प्राप्त होने की प्रबल संभावनाएं भी दिख रही हैं।

02 जून के बाद गुरु के ग्यारहवें भाव में शनि पर दृष्टि प्रभाव के कारण आपकी आय के स्रोतों में वृद्धि होगी । इस अवधि के दौरान आपको अचानक धन लाभ होगा।

 31 अक्टूबर के बाद आप जमीन, भवन तथा  वाहन आदि से सुख-सुविधा मिलने के हकदार होंगे।जो आपकी आर्थिक सम्पन्नता को बढ़ाएगा। 

वृषभ राशि वाले अपनी आर्थिक चिंताओं से काफी लम्बे समय के लिए मुक्ति प्राप्त कर सकते है,यदि वह सही योजना अनुसार धन संयोजन करें। 

अधिक धन प्राप्ति उपाय के उपक्रमों को जानने के लिये धन प्राप्ति उपाय (How To Become Rich) अवश्य पढ़े।

Love and Romance in 2026 | प्रेम एवं प्रणय सम्बन्ध  

आपकी राशि के लोगों के प्रेम (Prem) जीवन में इस साल मिला जुला असर देखने को मिलेगा। आपको अपनी लव लाइफ में अपने हिसाब से बदलाव के लिए मई तक इंतज़ार करना होगा। 

साल 2026 की गर्मियों के बढ़ने के साथ ही आपका प्रेम भी परवान चढ़ेगा। आप अपने प्रेम को अपने साथी की आँखों में देख पाएंगे।

विवाह योग, कब, कहा और कैसे आदि प्रश्नो से सम्बंधित समाधान के लिये Marriage लेख पढ़े और अपनी जिज्ञासा को विराम दे।

प्रेम विवाह के योग एवं प्रेम विवाह की सफलता के विषय में जानने के लिये Love Marriage पर जाये। अपने और प्रेमी से विवाह सम्बंधित शंकाओ के बारे में जाने।  

Family and social Life | परिवार एवं सामाजिक जीवन 

पारिवारिक दृष्टि से वर्ष की शुरुआत आपके लिए  शुभ रहेगी। वर्ष की शुरुआत में गुरु के द्वितीय भाव में स्थित होने के कारण आपके परिवार में किसी सदस्य की वृद्धि होगी। 

जिस प्रकार परिवार के सदस्यों में आपसी सहयोग एवं  सदभाव की भावना पैदा होगी, उसी प्रकार आपके परिवार में एक अनुकूल वातावरण भी  बना रहेगा। 

साल भर आपको जीवन के हर क्षेत्र अपने भाइयों का पूरा सहयोग मिलेगा। विशेष रूप से व्यापार में आप इससे विशेष लाभ प्राप्त करेंगे। 

चतुर्थ भाव में स्थित केतु परिवार में अशांति का कारण होगा लेकिन आप अपने ईमानदार प्रयासों से परिवार में शांति बहाल करने में सफल होंगे।

02 जून के बाद आपकी सामाजिक स्थिति में वृद्धि होने के संकेत हैं। आप उत्सुकता से सामाजिक गतिविधियों में भाग लेंगे तथा  समाज सुधार के लिए एक संस्था का प्रबंध करेंगे। 

अपने द्वारा किये गए सामाजिक कामों के दम पर आप सामाजिक क्षेत्र में एक विशिष्ट व्यक्तित्व के रूप में जाने जाएंगे।

Children | संतान

वर्ष की शुरुआत वृषभ राशि के जातकों के लिए संतान पक्ष की दृष्टि से  अनुकूल है, द्वितीय भाव में गुरु का प्रभाव होने से आपके बच्चों की  उन्नति का मार्ग प्रशस्त होगा। 

उनकी  पढ़ाई में अधिक रुचि विकसित होगी जो आपके लिए एक अच्छी खबर है। आपके बच्चे अपने कठिन एवं समर्पित प्रयासों के बल पर सफलता के शिखर पर पहुंचेंगे।

वृषभ राशि के संतान की इच्छा रखने वालों के लिए यह समय संसेचन के लिए शुभ बन रहा है,इस वर्ष आपके परिवार में संतान के रूप में एक नया सदस्य आएगा। 

2 जून से आपके दूसरे बच्चे के लिए समय अनुकूल रहने वाला है। यदि आपका दूसरा बच्चा विवाह योग्य उम्र में है, तो उसकी शादी के लिए तैयार हो जाइए। 

साल के मध्य भाग की अवधि में आप अपने बच्चों के साथ भावनात्मक लगाव बढ़ाएंगे। जिससे उनके मन में भी आपके प्रति प्रेम बढ़ेगा। 

संतान सम्बन्धी विषयो और समस्याओ के लिये स्वर योग से मनचाही संतान पढ़े। 

Health | स्वास्थ 

स्वास्थ्य के लिहाज से साल का पहला भाग आपके लिए काफी अच्छा रहेगा। इस दौरान आपकी शारीरिक ऊर्जा एवं कार्य कुशलता में वृद्धि होगी। 

पूर्ण स्वस्थ स्थिति में आपके लिए प्रबल आत्मविश्वास की संभावनाएं होंगी। रोग प्रतिरोधक क्षमता को बनाए रखने के लिए आप संतुलित आहार एवं  नियमित व्यायाम करें। 

शुभ बृहस्पति की स्थिति आपके लिए अनुकूल है ,इसलिए आप शाकाहारी भोजन ही करेंगे, आप पवित्र आचार-विचार की जीवन शैली को  विकसित करेंगे। 

गुरु के गोचर के बाद आपको छोटी-मोटी बीमारियां हो सकती हैं। लग्न पर शनि की दृष्टि होने से आप थोड़े सुस्त भी हो सकते हैं। 

उस समय, आपको एक आहार का कड़ाई से पालन करना चाहिए। आपको खान-पान के साथ-साथ दिन भर के कामों पर भी गंभीरता से ध्यान देना चाहिए। 

योग का अभ्यास करने के साथ-साथ सुबह व्यायाम करें। समय का सदुपयोग करके अपनी जीवन-शैली को सुधारने का प्रयास करें।

स्वयं के स्वास्थ्य की देखभाल के लिए “स्वयं की देखभाल” (9 ways to self-care) पढ़े।

Travel in 2026 | यात्रा 

यात्राओं एवं भ्रमण के मामले में यह वर्ष आपको औसत फल देगा। आपकी राशि वालों के लिए साल के पहले भाग में किसी विशेष यात्रा के संकेत नहीं मिल रहे हैं। 

लेकिन 02 जून के बाद गुरु के तीसरे भाव में गोचर प्रभाव के कारण आप छोटी एवं  महत्वहीन यात्राओं पर जाएंगे। इसी दौरान कुछ  लंबी यात्राएँ भी करेंगे। 

साल का यह समय आपकी राशि वालों के लिए तीर्थ यात्रा पर जाने के लिए समय अनुकूल बनता दिख रहा है।आप अपने धार्मिक विश्वास अनुसार तीर्थ यात्रा करेंगे। 

31 अक्टूबर के बाद आप परिवार के सदस्यों के साथ अपने जन्म स्थान पर जाएंगे या पर्यटन स्थलों और धार्मिक (दार्शनिक) स्थलों की यात्रा का आनंद लेंगे।

Astrology Suggestions | ज्योतिषीय उपाय   

साल की शुरुआत में धार्मिक कार्यों के लिए सकारात्मक माहौल रहेगा। ईश्वर के प्रति अटूट विश्वास एवं आस्था आपके मन में हमेशा के लिए जगह बना लेगी।

02 जून के बाद नवम भाव में बृहस्पति की दृष्टि से आप एक विशेष पूजा, एक अग्नि यज्ञ (हवन), एक निश्चित उद्देश्य के साथ धार्मिक समारोह आदि को पूरा करेंगे। 

आप धार्मिक कर्म करके, दान में गरीबों को दान करके पवित्र कर्म अर्जित करेंगे। और तीर्थ। ऐसा करने से, आप अपनी आत्मा को मानसिक शांति और संतुष्टि की भावना विकसित करेंगे।

 31 अक्टूबर के बाद परिवार में सुख-समृद्धि की प्राप्ति के लिए आप कोई हवन या धार्मिक कार्य करेंगे।जो आपको आत्मिक शांति देगा। 

  • अपने घर में स्फटिक यंत्र स्थापित करें और प्रतिदिन उसके सामने दीपक जलाएं।
  • बुधवार के दिन गणेश जी को दूर्वा चढ़ाएं और “ॐ गण गणपतये नमः” का पाठ करें।
  • प्रतिदिन हनुमान चालीसा का पाठ करें।

नवरत्नों के चमत्कारिक प्रभाव को जानने के लिए नवरत्न (Navratna) पर जाये। यदि रंगो का हमारे जीवन और स्वास्थ पर पड़ने वाले प्रभाव को जानना चाहते है, तो कलर (Colour) पर क्लिक करे।

इस मानव शरीर पर पड़ने वाले ग्रहो के प्रभाव से उत्पन्न व्याधियों के रत्नो द्वारा उपचार के लिए Navagraha पढ़े।

यंत्र प्रयोग एवं यंत्रो द्वारा समस्या निवारण अथवा प्रयोजन सिद्धि जानने हेतु यंत्र का जादू (Yantra) पर जाये तथा विविध प्रयोजन हेतु विशिष्ट यंत्रो की भी जानकारी प्राप्त करे।

जीवन में आने वाली अप्रत्याशित समस्याओ तथा काल सर्प दोष के मध्य सम्बन्ध और उपाय के लिये kaal sarp dosh लिंक पर जाये।

लग्न, वर्षफल, राशियों अथवा भविष्यफल से सम्बंधित वीडियो हिंदी में देखने के लिए आप Hindirashifal यूट्यूब चैनल पर जाये और सब्सक्राइब करे।

अब आप हिन्दी राशिफ़ल को Google Podcast पर भी सुन सकते है। सुनने के लिये hindirashifal पर क्लिक करे और अपना मनचाही राशि चुने।

Leave a Reply