संसार में हर व्यक्ति एक दुसरे से अलग होता है, इस अलगाव का कारन भी अलग-अलग होता है ,जैसे हमारी शारीरिक संरचना, रंग रूप, भाषा, धर्म एवं हमारी आदतें। 

हमारी आदतें हमे दुसरो से अलग बनाने में सबसे बड़ा योगदान देती है। क्योंकि हमारी छोटी-छोटी आदते ही हमारे व्यक्तित्व ( habits determine personality ) का भी निर्माण करती है। 

हमारा चरित्र मूल रूप से हमारी आदतों का एक संयोजन है। किसी भी दो लोगों का व्यक्तित्व बिल्कुल एक जैसा नहीं होता है। 

अक्सर नहीं, यह छोटी-छोटी आदतें हैं जो हम अपने जीवन के दौरान बनाते हैं जो हमें अपने आसपास के लोगों से अलग बनाती हैं।

हम सभी में अच्छी या  बुरी कई आदतें होती हैं तथा उनमें से अधिकांश अवचेतन रूप से हमारे भीतर होती हैं। आवश्यकता अनुसार हम उनको अपने जीवन में सजीव करते हैं। 

हम आमतौर पर अपनी आदतों पर ज्यादा विचार नहीं करते हैं, लेकिन वास्तव में हमारा अभ्यस्त व्यवहार ही अंततः हमारे व्यक्तित्व का निर्माण करता है।

जब हमारे व्यक्तित्व के निर्माण के लिए आवश्यक तत्वों की बात करते है, तो हम व्यक्तित्व को “किसी व्यक्ति के बाहरी रूप और व्यवहार” के रूप में परिभाषित कर सकते हैं।

इस कारण से हम सुनिश्चित हो सकते हैं कि हमारी आदतों का संग्रह हमारे व्यक्तित्व का एक बड़ा हिस्सा है। आपकी नौ दिन की आदतों से पता चलता है कि आप एक व्यक्ति के रूप में किसके बारे में जानते हैं।

How you select your shoes | जूतों के चुनाव का तरीका 

जर्नल ऑफ रिसर्च इन पर्सनैलिटी में प्रकाशित एक अध्ययन से पता चलता है, कि आप किसी के व्यक्तित्व को उसकी पसंद के जूतों से भी अच्छी तरह जान  सकते हैं।

how-you-select-your-shoes-habits-determine-personality

एक अध्ययन के दौरान चिन्हित प्रतिभागियों को उनके व्यक्तित्व से जुड़े लक्षणों पर एक प्रश्नावली पूरी करने तथा  फिर उनके जूतों की एक तस्वीर लेने के लिए कहा गया।

उसके बाद, उन्होंने लोगों के दूसरे समूह से इन तस्वीरों को देखने और पहनने वाले के व्यक्तित्व का वर्णन करने के लिए कहा गया। 

उसके बाद, उन्होंने लोगों के दूसरे समूह से इन तस्वीरों को देखने तथा पहनने वालों के व्यक्तित्व का वर्णन करने के लिए कहा गया ।

हैरानी की बात यह है, कि उनमें से ज्यादातर लोग दूसरों के व्यक्तित्व को लेकर अपने अनुमानों के साथ काफी सटीक थे। 

अध्ययन के परिणामों में पाया गया, कि जो लोग आरामदायक जूते पहनते हैं वे मिलनसार व्यक्तित्व वाले व्यक्ति होते हैं।

वही जो लोग टखने तक ऊंचाई के जूते पहनते हैं, उनके आक्रामक होने की संभावना अधिक होती है। जो लोग असुविधाजनक जूतों को भी पहन लेते है, वह शांत व्यक्तित्व का परिचय देते हैं। 

जो व्यक्ति बिलकुल सही आकार एवं साफ-सुथरे जूते पहनते है, वह अपने जिज्ञासु एवं दृढ़तापूर्ण व्यक्तित्व का परिचय आपको देते हैं। 

The way you shake hands | हाथ मिलाने का तरीका 

हम जब एक दुसरे से मिलते है, तो हमारे दुसरे व्यक्ति से मिलने का तरीका उस व्यक्ति तक हमारी उसके प्रति भावनाओं को ही नहीं बल्कि हमारे सम्पूर्ण व्यक्तित्व का विवरण भी आसानी से उस तक पहुंचा देता है। 

खासतौर से सम्पूर्ण संसार में मानवीय अभिवादन का सबसे प्रचलित तरीका हमारा एक दुसरे से हाथ मिलाना होता है। 

जब हम किसी से ख़ुशी एवं गर्मजोशी से हाथ मिलाते है, तो यह सिद्ध होता है, कि आप एक सकारात्मक ऊर्जा से ओतप्रोत व्यक्ति है। 

वही अगर आप बिलकुल बेजान एवं नीरसता के साथ हाथ मिलते हैं,तो आपके निराशावादी एवं चीज़ो के प्रति नकारात्मक ऊर्जा से भरे होने का सन्देश दूसरों तक पहुंचा देते है। 

जब आप दृढ़ता से सामने वाले यक्ति से हाथ मिलाते है, तो अपने बहिर्मुखी, अनुभवशली एवं खुले व्यवहार एवं व्यक्तित्व का प्रदर्शन करते हैं। 

अध्ययन में यह भी पाया गया कि जो महिलाएं पुरुषों से अधिक दृढ़ता से हाथ मिलाती हैं, वे अधिक उदार, बौद्धिक और अनुभवों के लिए खुली महिलाओं के रूप में अपनी छवि निर्मित कर पाती हैं। 

विषय सम्बंधित निम्नलिखित लेख भी पढ़े।

1 आकर्षित करने के तरीके ( Law of attraction )

2 प्रेम की बोली ( The coded language of love )

3 आकर्षण सिद्धांत ( How insane is attachment )

4 What Pulls a Man Toward a Woman

Your courtesy | आपका ईमेल शिष्टाचार 

आज के आधुनिक युग में एक दूसरे तक कामकाजी या व्यक्तिगत संदेश पहुंचाने का सबसे प्रचलित तरीका ईमेल भेजना बन गया है। 

your-courtesy-email

आप किसी दुसरे व्यक्ति को ईमेल कैसे लिखते हैं, यह आपके व्यक्तित्व के बारे में उस व्यक्ति को बहुत कुछ बता  सकता है।

हम जिन शब्दों को अपने ईमेल राइटिंग में इस्तेमाल करते हैं, उससे आपके विचारों के साथ-साथ आप उस विषय या व्व्यक्ति को लेकर क्या सोचते हैं यह ज़ाहिर होता है। 

नार्सिसिस्ट या खुद को सर्वोत्तम समझने वाले व्यक्ति अधिक बार “मैं”, मुझे ” और ” मेरा ” शब्दों का उपयोग करना पसंद करते हैं। 

यदि कोई व्यक्ति ईमेल लिखते समय टाइपिंग मिस्टेक कम से कम या बिल्कुल नहीं करता है, तो वह कर्तव्यनिष्ठ एवं  पूर्णतावादी होने का प्रमाण देता है। 

खराब व्याकरण आपके निम्न स्तर के IQ एवं  पढाई को लेकर लापरवाह होने का संकेत दे सकता है। जबकि लंबे लिखे ईमेल व्यक्तित्व की संपूर्णता दर्शाता है। 

The way you eat | आपका खाना खाने का तरीका 

आप अपना भोजन तेज़ या धीमी गति से खाते हैं क्या आपने कभी ये सोचा है, कि आपकी खाना खाने की यह छोटी सी आदत या तरीका आपके सम्पूर्ण व्यक्तित्व को उजागर करने के लिए काफी होता है। 

खाना खाने के मानवीय तरीकों या आदतों पर किए गए अध्ययनों से पता चलता है, कि तेज़ी से भोजन करने वाले लोग अत्यंत महत्वाकांक्षी, लक्ष्य-उन्मुख, अनुभवों के लिए खुले एवं अधीर स्वभाव के  होते हैं। 

दूसरी ओर धीरे-धीरे भोजन खाने वाले हमेशा नियंत्रण में रहना पसंद करते हैं तथा जीवन से जुड़े हर पक्ष की सराहना करना जानते हैं।

जो लोग अलग-अलग प्रकार की खाद्य वस्तुएं खाते हैं वह साहसी एवं अपने आरामदायक माहौल से बाहर निकलकर जीवन के संघर्ष का सामना करना जानते हैं। 

Your promptness | आपकी समयबद्धता

एप्लाइड सोशल साइकोलॉजी के जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक, बैठकों के लिए समय पर पहुंचने की हमारी क्षमता प्रकट कर सकती है, कि हम समय एवं अपने काम को लेकर कितने प्रतिबद्ध हैं। 

जो लोग समय पर काम करने या कहीं पहुँचने को लेकर सजगता बरतते हैं, वह जीवन को लेकर सकारात्मक, आक्रामक एवं लक्ष्य उन्मुख व्यक्तित्व के स्वामी होते हैं। 

वहीँ समय के पाबंद न होने वाले लोग जीवन में हर काम को आराम से या शांत चित होकर करना पसंद करते हैं। जिससे दुसरे लोग आपको जल्दी पूरी की जाने वाली ज़िम्मेदारियाँ देने से बचते हैं। 

Your Smile Tells People a Lot About You | आपकी मुस्कान बहिर्मुखी व्यक्तित्व की पहचान 

जो लोग बहिर्मुखी होते हैं, वे अधिक स्वाभाविक रूप से मुस्कुराते हैं, जबकि अंतर्मुखी लोगों को सार्वजनिक परिस्थितियों में मुस्कान बनाए रखने का प्रयास करना पड़ता है।

इसका प्रमाण इससे जुड़े कई अध्ययनों के द्वारा पता चलता है, जहां प्रतिभागियों ने मुस्कुराते हुए लोगों की तस्वीरों को देखा और यह निर्धारित किया कि उनकी मुस्कान के आधार पर कौन से लोग बहिर्मुखी थे।


Your spending habits | आपकी खर्च करने की आदत

आपके खर्चा करने का तरीका दूसरों को बताता है, कि आपका व्यक्तित्व कैसा है। आप एक आवेगी व्ययकर्ता हैं या आप हर खरीदारी में अपना समय लगाते हैं। 

भले ही आपने अपनी खर्च करने की आदतों के बारे में ज्यादा नहीं सोचा हो, लेकिन यह वास्तव में आपके बारे में बहुत कुछ बता सकता है।

आवेगी खर्च करने वाले सहज, सुखवादी होते हैं, तथा वर्तमान पल में जीते हैं, जबकि खर्च करने वाले जो अपना समय लेते हैं वे अधिक तर्कसंगत, धैर्यवान होते हैं और पूरे परिप्रेक्ष्य का निरीक्षण करना पसंद करते हैं।

इसके अलावा, अगर आप फैंसी डिनर, वेकेशन एवं  स्पा विजिट जैसी चीजों पर पैसा खर्च करते हैं, तो इसका मतलब है कि आप खुद के साथ अच्छा व्यवहार करना पसंद करते हैं। 

जबकि अगर आप केवल बुनियादी जरूरतों पर पैसा खर्च करते हैं, तो आप अधिक डाउन-टू-अर्थ और व्यावहारिक होते हैं।

Your posture | आपकी शारीरिक मुद्रा

आपके बैठने या खड़े होने के तरीके से आप जितना सोच सकते हैं उससे कहीं अधिक आपके व्यक्तित्व के विषय में पता चलता है।

यदि आप खड़े होने पर हिलते हैं, तो आप एक अनिश्चित विचारक हो सकते हैं, तथा हाई एंग्जायटी से पीड़ित भी हो सकते हैं। 

यदि आप झुक कर या थोड़ा कुब निकल कर खड़े होते हैं, तो यह कम आत्मविश्वास वाले व्यक्तित्व को इंगित करता है, जो संघर्ष एवं उदासी में जीवन जी रहा है। 

खड़े होते समय यदि आपका सर आगे की ओर रहता है, तो यह आपके व्यक्तित्व में हाइपर पर्सनालिटी का प्रदर्शन करता दीखता है। 

Your physical responses | शारीरिक भाव भंगिमायें

अधिकतर शब्दों से ज्यादा लोग अपनी भावनाओं को अपनी शारीरिक क्रियाओं के माध्यम से व्यक्त करते हैं। कई बार हमारी  शारीरिक क्रियाएं हमारे बारे में लोगो को बता देती हैं। 

उदाहरण के लिए, हम उन लोगों की ओर झुक जाते हैं, जिन्हें हम पसंद करते हैं और जिन्हें हम पसंद नहीं करते उनसे दूर हो जाते हैं।

यदि आप अपने कंधों को पीछे करके अपना सिर ऊंचा रखते हैं, तो आप आत्मविश्वासी दिखेंगे एवं आप स्वयं के आत्म-सम्मान में वृद्धि भी होगी। 

यदि आप किसी को होंठ चबाते हुए देखते हैं, तो इसका मतलब है, कि आप दबाव में या अजीब स्थिति में खुद को शांत करने की कोशिश कर रहे हैं।

Way to roll your toilet paper | आपका टॉयलेट पेपर रोल करने का तरीका 

एक ऐसा काम जिससे रोज़ाना हम सभी को करना होता है वो है टॉयलेट पेपर को रोल करने का तरीका। देखने सुनने में तो यह बहुत ही साधारण सा काम है, किन्तु इससे भी आपके व्यक्तित्व का प्रदर्शन होता है। 

उपरोक्त सभी आदते आपके व्यक्तित्व एवं स्वभाव से दूसरों का परिचय कराने में अपना महत्वपूर्ण योगदान देते हैं। अतः हम सभी को अपनी आदतों को व्यवस्थित करने की आवश्यकता होती है। 

फैशन, संस्कृति, राशियों अथवा भविष्यफल से सम्बंधित वीडियो हिंदी में देखने के लिए आप Hindirashifal यूट्यूब चैनल पर जाये और सब्सक्राइब करे।

हिन्दी राशिफ़ल को Spotify Podcast पर भी सुन सकते है। सुनने के लिये hindirashifal पर क्लिक करे और अपना मनचाही राशि चुने। टेलीग्राम पर जुड़ने हेतु हिन्दीराशिफ़ल पर क्लिक करे।

Leave a Reply